रिवर राफ्टिंग का है शौक तो एक्सप्लोर करें ये 5 जगहें

अनुषा मिश्रा 29-02-2020 06:23 PM Adventure
रिवर राफ्टिंग हमारे देश के सबसे पॉप्युलर एडवेंचर स्पोर्ट्स में से एक है। खतरों से खेलने वाले युवा इस तरह की एडवेंचर एक्टिविटीज के लिए मौके ढूंढते रहते हैं। इसीलिए यहां कई ऐसी जगह हैं जहां की रिवर राफ्टिंग काफी फेमस है। वैसे तो ज्यादातर लोग इस खतरे का खेल बताकर इससे दूर रहने को कहते हैं, लेकिन यकीन मानिए रिवर राफ्टिंग में इतना मजा आता है कि कब आप राफ्ट पर बैठकर नदियों की लंबी दूरी नाप लेते हैं पता ही नहीं चलता।  हालांकि रिवर राफ्टिंग में थोड़ा खतरा तो रहता है, लेकिन थोड़‍ी सी सावधानी बरत कर इसे जी भरकर एंजॉय किया जा सकता है। चलिए हम आपको बताते हैं भारत में रिवर राफ्टिंग की पांच सबसे बेहतरीन जगहों के बारे में। 

ऋषिकेश

व्हाइट वॉटर रिवर राफ्टिंग में ऋषिकेश सबसे पहले आता है। यह जगह रिवर राफ्टिंग के लिए सबसे बेहतरीन है। मैंने सबसे पहले यहीं राफ्टिंग की थी, इसलिए मुझे तो ऋषिकेश से कुछ ज्यादा ही प्यार है। यहां गंगा नदी का बहाव बहुत अच्छा है। यहां शिवपुरी से राम झूला, कौडियाला से मरीन ड्राइव, मरीन ड्राइव से शिवपुरी, ब्रह्मपुरी से रामझूला जैसे कई रूट्स पर रिवर राफ्टिंग होती है। गंगा नदी का हरा और साफ पानी, किनारों पर बिछी सफेद रेत, एक तरफ ऊंचे पहाड़, ऐसा लगता है कि प्रकृति की सारी खूबसूरती और सुकून यहीं है। जून से सितंबर का समय यहां रिवर राफ्टिंग के लिए बेस्ट है। 

कठिनाई स्तर- ग्रेड I – ग्रेड IV

दूरी- 9 किमी – 36 किमी

अरुणाचल प्रदेश

ब्रह्मपुत्र की सहायक लोहित नदी राफ्टिंग और कायाकिंग दोनों के लिए एक बेतरीन जगह है। अरुणाचल प्रदेश में व्हाइट वॉटर रिवर राफ्टिंग के लिए यह नदी बहुत फेमस है और खास बात ये भी है कि भारत में सबसे लंबी दूरी की राफ्टिंग यहीं होती है। रिवर राफ्टिंग करते हुए आपको यहां जंगल, चट्टानों से होते हुए जनजातीय बस्तियों से भी गुजरना होता है। अगर आपको लोहित नदी में राफ्टिंग करनी है तो नवंबर से मार्च का समय सबसे बेहतर है। 

कठिनाई स्तर- चुनौती

दूरी - 180 किमी

सिक्किम और दार्जिलिंग

अगर आप पूर्वी भारत में रिवर राफ्टिंग के लिए किसी बेहतरीन जगह की तलााश में हैं तो तीस्ता नदी अच्छा ऑप्शन है। तीस्ता नदी सिक्किम, दार्जिलिंग और कलिम्पोंग के पहाड़ी क्षेत्रों से होकर बहती है। इस नदी में पानी का बहाव तेज है इसलिए राफ्टिंग करते हुए बहुत मजा आता है। तीस्ता में राफ्टिंग सिर्फ अक्टूबर से अप्रैल तक के महीनों तक ही की जा सकती है।

कठिनाई स्तर- ग्रेड I – ग्रेड IV

दूरी - 11 किमी – 37 किमी

कुर्ग

दक्षिण भारत में सैलानियों की सबसे पसंदीदा जगहों में से एक है कुर्ग। कर्नाटक के कुर्ग की बारपोल नदी भी रिवर राफ्टिंग के लिए बेहतरीन है। खास बात यह भी है कि यहां मानसून के महीनों में यानी जुलाई से सितंबर के बीच रिवर राफ्टिंग का बेस्ट मौसम है। यहां रिवर राफ्टिंग करते हुए आप कुर्ग की प्राकृतिक खूबसूरती को भी एंजॉय कर सकते हैं।

कठिनाई स्तर: ग्रेड II – ग्रेड VII

दूरी- 8 किमी

लद्दाख

एशिया की सबसे लंबी नदी सिंधु में रिवर राफ्टिंग करने का करने का अपना अलग ही मजा है। लद्दाख की खूबसूरत वादियां और साफ पानी दोनों मिलकर आपके इस एक्सपीरियंस को मजेदार बनाते हैं। सिंधु नदी की लंबाई 3,180 किलोमीटर है। लद्दाख में इस नदी में राफ्टिंग करते हुए आप पहाड़ी मठों, घाटियों और गांवों को पीछे छोड़ते हुए जैसे-जैसे आप आगे बढ़ते जाते हैं, ये मजा भी बढ़ता जाता है। यहां राफ्टिंग सीजन आमतौर पर जुलाई से सितंबर तक के महीनों का होता है।

कठिनाई स्तर- ग्रेड III – ग्रेड IV

दूरी- 25 किमी

आपके पसंद की अन्य पोस्ट

अगर आपको भी है बंजी जंपिंग का शौक? ये जगहें हैं बेस्ट

ऋषिकेश का मोहनचट्टी गांव में जंपिंग हाइट्स नाम की जगह है जो बंजी जंपिंग के लिए काफी फेमस है।अगर आपने अभी तक इसे ट्राई नहीं किया तो आइए यहां

सेफ्टी के साथ एडवेंचर स्पोर्ट्स का मजा

एडवेंचर स्पोर्ट्स जितना रोमांचक नजर आते हैं उतना ही खतरनाक भी है, लेकिन एडवेंचर स्पोर्ट्स के साथ अगर कुछ जरूरी टिप्स याद रखें तो आप इसका लुत्फ आसानी से उठा सकते हैं।

लेटेस्ट पोस्ट

अयोध्या को खूबसूरत बनाने वाली 10 शानदार जगहें

आप बिना ज़्यादा सोच-विचार किए झट से वहां जाने की तैयारी कर लें।

इतिहास का खजाना है यह छोटा सा शहर

यहां समय-समय पर हिंदू, बौद्ध, जैन और मुस्लिम, चार प्रमुख धर्मों का प्रभाव रहा है।

लक्षद्वीप : मूंगे की चट्टानों और खूबसूरत लगूंस का ठिकाना

यहां 36 द्वीप हैं और सभी बेहद सुंदर हैं, लेकिन इनमें से सिर्फ 10 द्वीप ही ऐसे हैं जहां आबादी है।

नए साल का जश्न मनाने के लिए ऑफबीट डेस्टिनेशन्स

वन्यजीवन के बेहतरीन अनुभवों से लेकर संस्कृति, विरासत और प्रकृति तक, इन जगहों में सब कुछ है।

पॉपुलर पोस्ट

घूमने के बारे में सोचिए, जी भरकर ख्वाब बुनिए...

कई सारी रिसर्च भी ये दावा करती हैं कि घूमने की प्लानिंग आपके दिमाग के लिए हैपिनेस बूस्टर का काम करती है।

एक चाय की चुस्की.....एक कहकहा

आप खुद को टी लवर मानते हैं तो जरूरी है कि इन सभी अलग-अलग किस्म की चायों के स्वाद का मजा जरूर लें।

घर बैठे ट्रैवल करो और देखो अपना देश

पर्यटन मंत्रालय ने देखो अपना देश नाम से शुरू की ऑनलाइन सीरीज। देश के विभिन्न राज्यों के बारे में अब घर बैठे जान सकेंगे।

जोगेश्वरी गुफा: मंदिर से जुड़ी आस्था

यहां छोटी-बड़ी मिलाकर तमाम गुफाएं हैं जिनमें अजंता-एलोरा की गुफाएं तो पूरे विश्व में अपनी शानदार वास्तुकला के चलते प्रसिद्ध हैं।