स्लो ट्रैवेल है पसंद? ये 5 ऑप्शन्स कर सकते हैं ट्राई

अनुषा मिश्रा 04-10-2022 05:23 PM Adventure
स्लो ट्रैवेल आजकल ट्रेंड में है। लोग किसी जगह को सिर्फ देखकर आने के बजाय उस जगह को समझने की कोशिश कर रहे हैं। यूटूबर्स ने भी इस ट्रेंड को काफी आगे बढ़ाया है। स्लो ट्रैवेल करने वाले लोग जहां घूमने जाते हैं वहां के स्थानीय लोगों, संस्कृतियों, खाने, इतिहास और नृत्य-संगीत के बारे में भी इत्मीनान से जानने की कोशिश करते हैं। स्लो ट्रैवेल इस बात पर निर्भर करता है कि एक यात्रा लोकल कम्युनिटीस और पर्यावरण के हिट में हो, आपको कुछ नया सिखाए और आपकी ज़िंदगी पर कोई प्रभाव भी डाले। अगर आप एक ट्रैवलर हैं या बनना चाहते हैं तो भारत में आपकी बकेट लिस्ट में जोड़ने के लिए यहां हम पांच ऐसे ऑप्शन्स बता रहे हैं जो आप स्लो ट्रैवेल के दौरान ट्राई कर सकते हैं।

केरल के मसालों की खुशबू

grasshopper yatra Image

स्लो ट्रैवेल के महत्वपूर्ण पहलुओं में से एक केवल जगह पर पहुंचने के बजाय यात्रा का मज़ा लेने के लिए समय निकालना और कुछ सीखना है। इसका अनुभव करने के लिए 'भगवान के अपने देश' यानी केरल से बेहतर और क्या हो सकता है। आप यहां के मसालों और चाय के बागान की सैर कर सकते हैं। इन मसाले के बागानों में आपको हर तरह के मसालों की पूरी जानकारी मिल जाएगी। आप यहां के जंगलों, पहाड़ों या समंदर के किनारे साइकिल चलाते हुए, यहां के कल्चर से भी रू-ब-रू हो सकते हैं। 


कूर्ग में कॉफी हार्वेस्टिंग देखें

कहा जाता है कि भारत में उगाई जाने वाली कुल कॉफी का 71 प्रतिशत हिस्सा कर्नाटक में उगाया जाता है, जिसमें से कुर्ग में कुछ बेहतरीन अरेबिका और रोबस्टा किस्मों की कॉफी उगाई जाती है। जब इस फसल का मौसम होता है तब कुर्ग में कई समूह प्लांटेशन सफारी का आयोजन करते हैं। आप इनमें शामिल हो सकते हैं।  इनसे आपको यह जानने में मदद मिलेगी कि कॉफी के साथ उगाई जाने वाली वेनिला, इलायची और काली मिर्च की फसलों को कैसे उगाया जाता है। हां, अच्छा मौसम और खूबसूरत नज़ारे तो यहां आपको चप्पे-चप्पे पर मिलेंगे।


कोलकाता के हिस्टोरिकल प्लेसेस की सैर

grasshopper yatra Image

कोलकाता अपने अंदर इतिहास की पूरी एक दुनिया समेटे है। यहां अंग्रेजों के ज़माने की बिल्डिंगिंग्स, चीनी कस्बे, पारसी विरासत, मुगलों की वास्तुकला सब मिलेगा। कोलकाता की हर गली की एक कहानी है। हर सड़क कोई किस्सा कहती है। यहां की इमारतें बीते हुए लम्हों के गीत खुद गुनगुनाती हुई नजर आती हैं। यहां तक कि यहां के लोग आपको बंगाली खाने और मिठाइयों का भी इतिहास बताते नज़र आएंगे। 


गोवा के खाने का मज़ा लें

गोवा का खाना पुर्तगाली और देशी संस्कृतियों का एक मज़ेदार मिक्सचर है। अगर आप किसी गोअन फ़ूड ट्रैवेल का हिस्सा हैं, तो आप इमली, कटहल, पोर्क सॉसेज और देशी शराब जैसी चीजों का इस्तेमाल करके बनाए गए खाने का मज़ा मिलने की उम्मीद कर सकते हैं। केलर की तरह यहां भी इलायची, काली मिर्च, जायफल, वेनिला और दालचीनी की तलाश में किसी भी मसाले के बागान में जाना भी आपके लिए इंफोर्मेटिव और एंटरटेनिंग साबित हो सकता है। काजू के बागानों की सैर के साथ आप काजू से फेनी बनाने का प्रॉसेस भी देख सकते हैं। 


ऋषिकेश में कयाकिंग सीखें

अगली बार जब आप ऋषिकेश में हों, तो गंगा के पानी में राफ्टिंग का विचार छोड़ दें और कयाकिंग का आनंद लेने के लिए तैयार हो जाएं। जिनके पास पहले से कयाकिंग का अनुभव नहीं है वे एक दिन या वीकेंड के बजाय पूरे हफ्ते इसे सीखने का प्लान बना सकते हैं।  गंगा का पानी अक्टूबर से मार्च तक कयाकिंग के लिए उपयुक्त है, इसलिए अपनी यात्रा को उसी के अनुसार प्लान करें।


आपके पसंद की अन्य पोस्ट

खूबसूरती का खजाना है झारखंड की ये घाटी

घाटी में होटल और रिसॉर्ट्स भी हैं जिससे टूरिस्ट्स को यहां रुकने में कोई दिक्कत नहीं होती।

Mother's Day Special : ऐसा ट्रिप करें प्लान कि मां हो जाएं खुश

दिन को खास बनाने के लिए अपनी मां की पसंद के हिसाब से एक ट्रिप प्लान कर सकते हैं।

लेटेस्ट पोस्ट

अयोध्या को खूबसूरत बनाने वाली 10 शानदार जगहें

आप बिना ज़्यादा सोच-विचार किए झट से वहां जाने की तैयारी कर लें।

इतिहास का खजाना है यह छोटा सा शहर

यहां समय-समय पर हिंदू, बौद्ध, जैन और मुस्लिम, चार प्रमुख धर्मों का प्रभाव रहा है।

लक्षद्वीप : मूंगे की चट्टानों और खूबसूरत लगूंस का ठिकाना

यहां 36 द्वीप हैं और सभी बेहद सुंदर हैं, लेकिन इनमें से सिर्फ 10 द्वीप ही ऐसे हैं जहां आबादी है।

नए साल का जश्न मनाने के लिए ऑफबीट डेस्टिनेशन्स

वन्यजीवन के बेहतरीन अनुभवों से लेकर संस्कृति, विरासत और प्रकृति तक, इन जगहों में सब कुछ है।

पॉपुलर पोस्ट

घूमने के बारे में सोचिए, जी भरकर ख्वाब बुनिए...

कई सारी रिसर्च भी ये दावा करती हैं कि घूमने की प्लानिंग आपके दिमाग के लिए हैपिनेस बूस्टर का काम करती है।

एक चाय की चुस्की.....एक कहकहा

आप खुद को टी लवर मानते हैं तो जरूरी है कि इन सभी अलग-अलग किस्म की चायों के स्वाद का मजा जरूर लें।

घर बैठे ट्रैवल करो और देखो अपना देश

पर्यटन मंत्रालय ने देखो अपना देश नाम से शुरू की ऑनलाइन सीरीज। देश के विभिन्न राज्यों के बारे में अब घर बैठे जान सकेंगे।

जोगेश्वरी गुफा: मंदिर से जुड़ी आस्था

यहां छोटी-बड़ी मिलाकर तमाम गुफाएं हैं जिनमें अजंता-एलोरा की गुफाएं तो पूरे विश्व में अपनी शानदार वास्तुकला के चलते प्रसिद्ध हैं।