भारत में हैं ये जंगल ट्रैक, एडवेंचर के शौकीनों के लिए जन्नत से कम नहीं

अनुषा मिश्रा 12-06-2021 07:19 PM Adventure
ढेर सारी हरियाली, हवा के साथ आती पत्तों की आवाजें, चिड़ियों की चहचहाहट और बीच में से कभी हाथी की चिंघाड़ तो कभी बाघ की दहाड़। ये सब शायद हर किसी को पसंद होता है। अगर आप वाइल्ड लाइफ प्रेमी हैं, तब तो सोने पर सुहागा। हमारे देश में ऐसे कई जंगल हैं जहां पर आप कुदरत की इन नेमतों का जी भर कर मजा ले सकते हैं। साथ में एडवेंचर का डोज तो होगा ही। भारत के जंगलों के बारे में लोग बहुत कम ही जानते हैं। यहां ट्रैकिंग का मजा ही कुछ और होता है। एडवेंचर के शौकीन लोगों को हाइकिंग और ट्रैकिंग का लुत्‍फ उठाने का मौका भी इन जंगलों में ही मिलता है। हम आपको बताने जा रहे हैं देश के ऐसे ही कुछ जंगलों के बारे में जहां आप खूब मजे कर सकते हैं। 

कुंजखड़क ट्रैक, उत्तराखंड

grasshopper yatra Image

हिमालय की तलहटी में जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क के पास पंगोट से इस ट्रैक की शुरुआत होती है। अगर आपको एडवेंचर का शौक है और दूर-दराज के इलाकों में जाना पसंद करते हैं तो यह ट्रैक आपको जरूर पसंद आएगा। रास्ते में आपको देवदार के पेड़ों से भरा आकाशकंदा का जंगल मिलेगा और कोसी नदी का साथ भी। मध्यम लेवल के इस ट्रैक पूरा होने में दो से तीन दिन का समय लग जाता है इसलिए खाने पीने की चीजें अपने साथ जरूर रखें।

मुदुमलई, तमिलनाडु

grasshopper yatra Image

तमिलनाडु के मुदुमलई नेशनल पार्क के बारे में आपने शायद सुना होगा। बेहद ही सुंदर है यह जगह। अगर यूं कहें कि जंगल ट्रैकिंग के लिए इससे बेहतर जगह आपको कहीं और नहीं मिलेगी तो कुछ भी गलत नहीं होगा। ये ट्रैक ज्‍यादा मुश्किल नहीं है और यहां पर आपको रहने के लिए हॉस्‍टल, होटल, रिजॉर्ट और गांव के घरों में रहने की सुविधा भी मिल जाएगी। आसपास के गांवों से ही ट्रैक की शुरुआत होती है। ट्रैकिंग के इस रास्‍ते में आपको मुदुमलई के कई खूबसूरत नजारे देखने को मिलेंगे। आसान से इस ट्रैक को पूरा होने में दो से तीन घंटे का ही समय लगता है। 

नेत्रवली वन्‍यजीव अभ्‍यारण्‍य, गोवा

grasshopper yatra Image

ऐसा कौन घूमने का शौकीन होगा जिसे गोवा न पसंद हो। गोवा जाना तो हर किसी का सपना होता है और जो एक बार हो आया वो दोबारा जाने के लिए हमेशा तैयार रहता है। अगर गोवा में आपको समंदर के किनारों के साथ जंगल का साथ भी मिल जाए तो क्या कहना। यहां हरे-भरे जंगलों से ढका नेत्रवली वन्‍यजीव अभ्‍यारण्‍य ट्रैकिंग के लिए बेहतरीन है। यहां पर आपको कई तरह की वनस्‍पतियां और वन्‍यजीव भी देखने को मिलेंगे। गोवा के इन जंगलों में 30 मीटर ऊंचे पेड़ हैं जो इस जगह और भी ज्‍यादा रोमांचक बनाते हैं। जंगल ट्रैकिंग के लिए ये जगह एकदम परफेक्‍ट है। बिगीनर्स के लिए मुफीद यह ट्रैक मॉनसून में बेहतरीन हो जाता है।

कोडाचाद्रि ट्रैक, कर्नाटक

grasshopper yatra Image

समुद्र तट से 4,406 फीट की ऊंचाई पर स्थित कोडाचाद्रि चोटि मूकांबिका नेशनल पार्क के पास कर्नाटक के शिवमोगा क्षेत्र में स्थित है। ट्रैकिंग के लिए इस जगह पर लोगों की भारी भीड़ देखने को मिलती है। पश्चिमी घाट की गोद में बसे झरनों और हरे-भरे जंगलों और वनस्‍पतियों और जीवों से ये ट्रैकिंग ट्रैक होकर गुजरता है। मध्यम लेवल के इस ट्रैक को पूरा करने में दो से तीन दिन का समय लगता है। 

टल्‍ले घाटी, अरुणाचल प्रदेश

grasshopper yatra Image

अरुणाचल प्रदेश में देवदार के पेड़ों के कई जंगल हैं जिनमें केले के पेड़ और हरी-भरी घाटियां भी शामिल हैं। प्राकृतिक सौंदर्य से सराबोर इस जगह पर कई तरह के वनस्‍पति और वन्‍यजीव आपको देखने को मिल जाएंगे। भारत के सभी राज्यों में अधिकतम वन आवरण है यहीं का है। जंगल ट्रैकिंग के लिए अरुणाचल प्रदेश की टल्‍ले घाटी बहुत मशहूर है। ये ट्रैक प्राकृतिक वनस्‍पतियों ही नहीं बल्कि घने बांस के क्षेत्र के रूप में भी जाना जाता है। हालांकि, इस जंगल में अब तक शहरीकरण की छाया नहीं पड़ी है इसलिए यहां पर जंगल ट्रैकिंग और फॉरेस्‍ट कैंपिंग का मज़ा लिया जा सकता है। समयावधि: 2 से 3 दिन लेवल: मध्‍यम कब जाएं: वसंत और पतझड़ यानि अक्‍टूबर से अप्रैल तक का समय यहां आने के लिए सही रहता है। इस दौरान इस ट्रैक का मौसम बहुत सुहावना रहता है।

आपके पसंद की अन्य पोस्ट

लॉकडाउन के बाद: घर पर हो गए हैं बोर तो लीजिए इन रोड ट्रिप्स का मजा

अगर आप दिल्ली में रहते हैं तो हम लेकर आए हैं कुछ ऐसी नजदीकी जगहों की लिस्ट जहां की सैर आप अपनी कार में ही बैठकर पूरी सुरक्षा के साथ कर सकते हैं।

तूफानी करने से पहले इन बातों का रखें ख्याल

पैराग्लाइडिंग और स्कूबा डायविंग एडवेंचर स्पोर्ट्स के रूप में काफी पॉप्युलर हो रहे हैं। यह देखने में रोमांचक जरूर लगते हैं, लेकिन एक गलती आपको भारी पड़ सकती है। इन्हें ट्राई करने से पहले इस चीजों को जरूर याद रखें।

लेटेस्ट पोस्ट

अयोध्या को खूबसूरत बनाने वाली 10 शानदार जगहें

आप बिना ज़्यादा सोच-विचार किए झट से वहां जाने की तैयारी कर लें।

इतिहास का खजाना है यह छोटा सा शहर

यहां समय-समय पर हिंदू, बौद्ध, जैन और मुस्लिम, चार प्रमुख धर्मों का प्रभाव रहा है।

लक्षद्वीप : मूंगे की चट्टानों और खूबसूरत लगूंस का ठिकाना

यहां 36 द्वीप हैं और सभी बेहद सुंदर हैं, लेकिन इनमें से सिर्फ 10 द्वीप ही ऐसे हैं जहां आबादी है।

नए साल का जश्न मनाने के लिए ऑफबीट डेस्टिनेशन्स

वन्यजीवन के बेहतरीन अनुभवों से लेकर संस्कृति, विरासत और प्रकृति तक, इन जगहों में सब कुछ है।

पॉपुलर पोस्ट

घूमने के बारे में सोचिए, जी भरकर ख्वाब बुनिए...

कई सारी रिसर्च भी ये दावा करती हैं कि घूमने की प्लानिंग आपके दिमाग के लिए हैपिनेस बूस्टर का काम करती है।

एक चाय की चुस्की.....एक कहकहा

आप खुद को टी लवर मानते हैं तो जरूरी है कि इन सभी अलग-अलग किस्म की चायों के स्वाद का मजा जरूर लें।

घर बैठे ट्रैवल करो और देखो अपना देश

पर्यटन मंत्रालय ने देखो अपना देश नाम से शुरू की ऑनलाइन सीरीज। देश के विभिन्न राज्यों के बारे में अब घर बैठे जान सकेंगे।

जोगेश्वरी गुफा: मंदिर से जुड़ी आस्था

यहां छोटी-बड़ी मिलाकर तमाम गुफाएं हैं जिनमें अजंता-एलोरा की गुफाएं तो पूरे विश्व में अपनी शानदार वास्तुकला के चलते प्रसिद्ध हैं।